ALL लेख
बदरीनाथ हाईवे के बंद होने से यात्रियों की मुश्किलें बढ़ीं,दोगुना किराया देने को मजबूर
September 8, 2020 • Anil Kumar

ऋषिकेश-बदरीनाथ हाईवे पर यातायात बाधित होने के कारण लोगों की मुश्किलें बढ़ गई हैं।  इससे श्रीनगर, रुद्रप्रयाग, गोपेश्वर रूट पर सफर करने वाली सवारियों को भारी परेशानी झेलनी पड़ रही है। गंगोत्री हाईवे से रूट डायवर्ट होने के कारण यात्रियों का सफर कई किलोमीटर बढ़ जा रहा है। साथ ही गंतव्य तक पहुंचने में यात्रियों को किराया भी ज्यादा चुकाना पड़ रहा है।

एक ओर ज्यादा किराये की मार जेब पर पड़ रही है, दूसरे गंतव्य तक पहुंचने में समय भी काफी ज्यादा लग रहा है। एक तो पहले ही लोग कोरोना संकट के कारण दिक्कतें झेल रहे हैं। ऊपर से हाईवे बाधित होने  के कारण सफर भी आफत बन गया है। दरअसल बदरीनाथ हाईवे तोताघाटी के समीप ऑलवेदर रोड कार्य के चलते बंद है। इसे बंद हुए  एक सप्ताह से अधिक वक्त हो गया है। अभी हाईवे के जल्द खुलने के आसार भी नहीं है। 

इसका असर देवप्रयाग, श्रीनगर गढ़वाल, रुद्रप्रयाग, गोपेश्वर और बदरीनाथ के बीच आवाजाही करने वाली लोकल सवारियों पर दिखना शुरू हो गया है। बदरीनाथ हाईवे अवरूद्ध होने से श्रीनगर और आगे अन्य रूट के वाहनों का रूट डायवर्ट कर गंगोत्री हाईवे पर टिहरी से वाया गडौलिया किया गया है। नए रूट में ऋषिकेश से श्रीनगर की दूरी करीब 60 किलोमीटर बढ़ गई है। इससे सरकारी और प्राइवेट  वाहनों के किराए में काफी वृद्धि हुई है।  

पहले ऋषिकेश से रुद्रप्रयाग का प्रति यात्री किराया 440 था , जो अब बढ़कर 600 रुपये तक हो गया। किलोमीटर में भी इजाफा हुआ है। लोगों को ज्यादा पैसा चुकाना पड़ रहा है और यात्रा में वक्त भी ज्यादा लग रहा है। रोडवेज के एआरएम पीके भारती का कहना है कि रूट डायवर्ट होने से परिवहन निगम ने भी किराए में 30 प्रतिशत तक वृद्धि की है।

दो गुना किराया वसूल रहे
ऋषिकेश। रुद्रप्रयाग जैसे रूटों की दूरी बढ़ने का निजी व्यावसायिक वाहन वाले फायदा उठा रहे हैं। एक ट्रेवल्स एजेंसी के संचालक ने नाम नहीं छापने की शर्त पर बताया कि रुद्रप्रयाग से ऋषिकेश लौटने वाले वाहन प्रति यात्री 1300 रुपये किराया वसूल रहे हैं, जबकि रोडवेज का प्रति यात्री किराया 600 रुपये है।

टैक्सी वाहनों की बुकिंग के रेट बढ़े  
ऋषिकेश। रूट डायवर्ट होने टैक्सी वाहनों की बुकिंग भी महंगी हो गई है। ऋषिकेश से श्रीनगर के लिए पहले टैक्स वाहन 3500 रुपये तक बुक हो रहे थे। लेकिन अब बुकिंग का रेट 4200 तक पहुंच गया है। ऋषिकेश से रुद्रप्रयाग के लिए टैक्सी की बुकिंग पहले 5000 रुपये में होती थी, अब   6000 तक चुकाने पड़ रहे हैं। ऋषिकेश से देवप्रयाग के लिए वाहन बुक करवाने में अब 2500 के स्थान पर 3500 रुपये तक खर्च करना पड़ रहा है।

Source:Hindustan