ALL लेख
बीजेपी नेता ने सीपीयू को भंग करने की करी मांग
July 30, 2020 • Anil Kumar

हरिद्वार / सीपीयू जी हां सिटी पेट्रोलिंग यूनिट एक पुलिस महकमे का हिस्सा है जो की सिटी के अंदर पेट्रोलिंग करते हैं पर आजकल सीपीयू बड़ी चर्चाओं में है सब जानते हैं उत्तराखंड के रुद्रपुर में सीपीयू के दरोगा ने एक व्यक्ति के माथे में चाबी को गोद दिया था वहां के लोगों में सीपीयू के प्रति रोष की भावना फैल गई थी और लोगों ने थानों का भी घेराव कर लिया था यहां तक की सरकार की विधायक भी इस सीपीयू के खिलाफ अपनी आवाज बुलंद करते हुए नजर आए इस पर आईजी लॉ एंड ऑर्डर अशोक कुमार ने सख्त कार्रवाई करी

बात करें कुंभ नगरी हरिद्वार की तो यहां पर भी सीपीयू चर्चा का विषय बनी हुई है और कई ऐसे मामले देखने को मिलते है जिससे कि सीपीओ द्वारा लोगों को परेशान किया जाता है जिसका कई व्यापारी संगठन भी विरोध करते हैं हाल में ही सीपीयू वालों ने कुछ लोगों का चालान काटा था जिस पर व्यापारियों ने हरिद्वार कोतवाली का घेराव किया और सीपीयू को हटाने की मांग की यहां तक कि भाजपा की सरकार में अब भाजपा के ही लोग सीपीयू को उत्तराखंड से भंग करने की कवायद शुरू कर चुके हैं वहीं भाजपा नेता संजय चोपड़ा ने सीपीयू के गठन को अनऔचिय ठहराते हुए सीपीयू पुलिस विभाग को भंग किये जाने की मांग को लेकर सामाजिक दूरी के साथ विरोध प्रदर्शन किया

भाजपा नेता संजय चोपड़ा ने सीपीयू को भंग करने की करी मांग

भाजपा नेता संजीव चोपड़ा में स्पष्ट शब्दों में सरकार से मांग करि की सीपीयू बेवजह लोगों को परेशान करती है ओर

उत्तराखंड राज्य में सीपीयू का गठन इसलिए किया गया था की राज्य में आपराधिक गतिविधियों पर विराम व लगाम लग सके और उत्तराखंड राज्य की कानून व्यवस्था सुचारू रूप से संचालित हो, इन उद्देश्यों की पूर्ति के लिए सीपीयू का गठन किया गया था लेकिन उत्तराखंड राज्य में जबसे सीपीयू का गठन हुआ है तबसे आम जनता, नागरिकों का मोटरवाईकल एक्ट के नाम पर उत्पीडन व शोषण किये जाने की घटनाओं का अंबार लगा हुआ है मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत व सरकार से हमारी मांग है कि उत्तराखंड राज्य में सीपीयू पुलिस के गठन को जनहित में भंग किये जाने 

चाहिये

Source :Agency news