ALL लेख
बिहार पुलिस का अजीबो-गजीब फरमान, ‘जाति’ देखकर बनाए जायेंगे थानेदार
September 18, 2020 • Anil Kumar

जैसे-जैसे बिहार चुनाव नजदीक आते जा रहा हैं वैसे-वैसे सरकार तुगलकी फरमान जारी करने में लगी हुई हैं। आज बिहार के थानों में थानेदार के पदस्थापन में काबिलियत नहीं बल्कि सामाजिक समीकरण और जाति का ख्याल रखने का फरमान जारी किया गया है। इस संबंध में पुलिस मुख्यालय ने बड़ा आदेश जारी किया गया है। पुलिस मुख्यालय ने सभी क्षेत्रीय क्षेत्रीय पुलिस महानिरीक्षक, डीआईजी और एसपी को पत्र लिखा है। पुलिस मुख्यालय द्वारा कहा गया है कि पुलिस थानों में थानेदार की पदस्थापन में सभी वर्गों का प्रतिनिधित्व दिया जाए।

पुलिस मुख्यालय के आईजी की तरफ से यह आदेश दिया गया है। पत्र में कहा गया है कि पूर्व में भी सभी जिलों के लिए इस संबंध में आदेश निर्गत किया गया था कि, पुलिस थानों में आउट पोस्टों में थानाध्यक्ष के पदस्थापन के क्रम में समाज के सभी वर्गों का प्रतिनिधित्व सुनिश्चित किया जाना है लेकिन पुलिस मुख्यालय के उक्त निर्देश का उल्लंघन किया जा रहा है।

पुलिस मुख्यालय के आईजी की तरफ से एक बार फिर से सभी आईजी, डीआईजी और एसपी को निर्देश दिया गया है कि अपने क्षेत्र के सभी थानों-आउटपोस्ट में थानाध्यक्ष के पदस्थापन के संबंध में समीक्षा करें। यह सुनिश्चित करें कि यथासंभव समाज के सभी वर्गों को समुचित प्रतिनिधित्व दिया जाए। पुलिस मुख्यालय के इस आदेश के बाद 17 सितबंर को इसकी समीक्षा भी की गई है।

Source:Rohtas patrika