ALL लेख
चीन ने भारतीय नागरिकों के प्रवेश पर अस्थायी तौर पर लगाई रोक, कई उड़ानें भी हुईं रद्द
November 7, 2020 • Anil Kumar

चीन नेआयातित कोरोना के जोखिम की वजह से विदेशियों के लिये वीजा स्थगित कर दिया है।चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता वांग वेनबिन ने बीजिंग के फैसले कोन्यायोचित ठहराते हुए यहां एक मीडिया ब्रीफिंग में कहा कि विदेश में महामारी की स्थिति गंभीर हो रही है।ऐसे में चीन को आयातित मामलों के जोखिम का ज्यादा सामना करना पड़ रहा है।

 

बीजिंग /  चीन ने शुक्रवार को कहा कि उसने भारतब्रिटेन और फिलिपीन जैसे देशों में विदेश नागरिकों के लिये वीजा पर अस्थायी रोक लगाई है क्योंकि उसे कोरोना वायरस के “आयातित मामलों” का ज्यादा जोखिम है। दिल्ली में चीनी दूतावास ने बृहस्पतिवार को कहा कि कोरोना वायरस महामारी के मद्देनजर चीन ने भारत से वैध वीजा या निवास परमिट रखने वाले विदेशी नागरिकों के प्रवेश पर अस्थायी रूप से रोक लगाने का फैसला किया है। चीन ने ब्रिटेन और फिलीपीन से यात्रियों के लिये भी ऐसी ही घोषणा की है। चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता वांग वेनबिन ने बीजिंग के फैसले को न्यायोचित ठहराते हुए यहां एक मीडिया ब्रीफिंग में कहा, “विदेश में महामारी की स्थिति गंभीर हो रही है। ऐसे में चीन को आयातित मामलों के जोखिम का ज्यादा सामना करना पड़ रहा है।

सितंबर की तुलना में अक्टूबर में आयातित मामलों की संख्या में 45 प्रतिशत का इजाफा हुआ है।” उन्होंने कहा, “इस बीच घरेलू स्तर पर भी कुछ मामले सामने आए हैं। ऐसी परिस्थितियों में हमनें दूसरे देशों में अपनाए जाने वाले तौर-तरीकों से सीखा और चीन आने वाले यात्रियों के लिये यात्रा-पूर्व रोकथाम एवं नियंत्रण उपायों को और मजबूत किया है।” चीन द्वारा अचानक लिये गए इस फैसले से भारत द्वारा यहां फंसे 2000 से ज्यादा भारतीय पेशेवरों को वापस लाने के लिये प्रस्तावित कुछ वंदे भारत मिशन उड़ानों को रद्द करना पड़ा। वांग ने यह भी कहा कि चीन में पहुंच रहे यात्रियों पर किये जा रहे कोविड-19 टेस्ट भी शत प्रतिशत सटीक नहीं हैं। उन्होंने कहा, “चीन आने वाले यात्रियों के लिये यात्रा से पूर्व न्यूक्लिक एसिड जांच आवश्यक है जिससे महामारी का आयात रोका जा सके। हालांकि, कोई भी मौजूदा तरीका फिलहाल शत प्रतिशत सटीक नहीं है।

 

Sources:Agency News