ALL लेख
देश में पहली बार उत्तराखंड में मिला दुर्लभ चमगादड़, 50 साल पहले दार्जिलिंग में दिखा था सोंबर बैट
August 31, 2020 • Anil Kumar

 

चीन सहित विश्व के कुछ देशों में पाया जाना वाला दुर्लभ चमगादड़ लांग टेल्ड विस्कर्ड बैट भारत में पहली उत्तराखंड के केदारनाथ वाइल्ड लाइफ सेंचुरी क्षेत्र में पाया गया है। इसके अलावा 1970 में आखिरी बार दार्जिलिंग में देखा गया सोंबर बैट भी चमोली जिले के चोपता में मिला है। आवाज और डीएनए सेंपल मैच के बाद इसकी पुष्टि हुई। उत्तराखंड में पर्यावरण के क्षेत्र में काम करने वाली संस्था नेचर साइंस इनिशिएटिव के सर्वे में ये नई प्रजातियां मिली हैं। इसके अलावा चमगादड़ों की सात प्रजातियां भी राज्य में पहली बार पायी गईं।

संस्था से जुड़े और जर्मनी के लिनबिज इंस्टीट्यूट में चमगादड़ों पर रिसर्च कर रहे रोहित चक्रवर्ती ने बताया कि पिछले कुछ सालों में हुए सारे शोधों के डाटा से मिलान के बाद ये सामने आया कि लांग टेल्ड विस्कर्ड बैट भारत में किसी जगह पहली बार पकड़ा गया। इससे पहले ये चीन और जापान सहित कुछ देशों में पाया गया था। भारत में ये पहली बार पकड़ा गया। वहीं चमोली जिले में चोपता में सोंबर बैट पाया गया। इसके अलावा सात अन्य प्रजातियां भी राज्य में पहली बार मिलीं। जिसके साथ ही उत्तराखंड में चमगादड़ों की कुल प्रजातियां 40 से बढ़कर 49 हो गई हैं। रोहित के साथ इस पूरे सर्वे में नेचर साइंस इनिशिएटिव के जुड़े लोग, टाटा इंस्टीट्यूट आफ जेनेटिक्स की फराह इस्तियाक और नेचुरल हिस्ट्री म्यूजियम जेनेवा के मैनुएल रुडी भी शामिल रहे।

टाटा इंस्टीट्यूट ऑफ जेनेटिक्स और आईआईटी बैंगलौर में जांच

रोहित के अनुसार फील्ड वर्ग के दौरान इनके डीएनए और आवाज के नमूने लिए गए। जिनका टाटा इंस्टीट्यूट आफ जेनेटिक्स एंड सोसाइटी और आईआईटी बैंगलौर में अलग अलग जांचें की गईं। जिसके बाद इन जांचों को नेचुरल हिस्ट्री म्यूजियम जेनेवा स्विट्जरलैंड के रिकार्ड से मिलान किया गया। जिनके पास दुनिया के लगभग सभी चमगादड़ों का रिकार्ड है।

इन इलाकों में हुआ सर्वे

ये सर्वे छह सौ से तीन हजार मीटर ऊंचाई के कई इलाकों में किया गया। जो देहरादून के बंजारावाला,मालदेवता,टिहरी के देवलसारी, धनौल्टी, नैनीताल के पंगोट और चमोली के केदारनाथ वाइल्ड लाइन इंस्टीट्यूट, मंडल और चोपता में सर्वे किया गया। जहां चमगादड़ों को पकड़कर उनके सेंपल लिए गए। बाद में उन्हें वहीं छोड़ दिया गया। 

source: Agency news