ALL लेख
दिल्ली-नोएडा बॉर्डर पर रैंडम कोरोना टेस्ट, इन रास्तों पर लिया जा रहा सैंपल
November 18, 2020 • Anil Kumar

 

आज से दिल्ली-नोएडा बॉर्डर पर रैंडम टेस्टिंग शुरू हो गया है। डीएनडी और चिल्ला इलाके से आने-जाने वालों का रैंडम टेस्ट किया जा रहा है। इसके लिए खास तौर पर स्वास्थ्य टीम को लगाया गया है। पीपीई किट पहने स्वास्थ्य कर्मी आने-जाने वाले लोगों का टेस्ट कर रहे हैं।

 

दिल्ली में फिर कोरोना ने फिर रफ्तार पकड़ ली है। नए आंकड़ों के मुताबिक पिछले 24 घंटे में राजधानी में 6396 मामले सामने आए और 99 लोगों ने अपनी जान गंवाई है। कोरोना के एक्टिव केसों की संख्या 42 हजार तक पहुंच गई है। राजधानी में संक्रमितो के तेजी से बढ़ते मामलों के बीच जहां एक तरफ सूबे के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल बाजारों को बंद करने और लोकल स्तर पर लॉकडाउन लगाने की अनुमति केंद्र से मांगी है वहीं यूपी के नोएडा में भी सतर्कता बरती जा रही है। नोएडा प्रशासन ने संक्रमण पर रोक लगाने के लिए बॉर्डर पर रैंडम टेस्टिंग का फैसला किया है। यानी की दिल्ली से आने वाले चुनिंदा लोगों की जांच की जाएगी। हालांकि दिल्ली से नोएडा आने-जाने पर कोई रोक नहीं होगी।

दिल्ली-नोएडा बॉर्डर पर रैंडम टेस्ट शुरू

आज से दिल्ली-नोएडा बॉर्डर पर रैंडम टेस्टिंग शुरू हो गया है। डीएनडी और चिल्ला इलाके से आने-जाने वालों का रैंडम टेस्ट किया जा रहा है।  इसके लिए खास तौर पर स्वास्थ्य टीम को लगाया गया है। पीपीई किट पहने स्वास्थ्य कर्मी आने-जाने वाले लोगों का टेस्ट कर रहे हैं। नोएडा CMO दीपक ओहरी ने कहा कि अभी से लेकर शाम तक रैंडम रैपिड टेस्टिंग की जाएगी। नोएडा में बाहर से संक्रमण तो नहीं आ रहा ये चेक करने के लिए टेस्ट किए जा रहे हैं। प्राप्त जानकारी के अनुसार नोएडा प्रशासन दिल्ली से नोएडा में घुसने वाले 5 एंट्री पॉइंट और 11 मेट्रो स्टेशनों पर लोगों का कोराना रैपिड एंटीजन टेस्ट करेगा। इसके लिए डीएनडी, मयूर विहार-नोएडा बॉर्डर, कालिंदी कुंज, कोंडली, न्यू अशोक नगर पर स्वास्थ्य विभाग की टीमें तैनात रहेंगी. इसके अलावा नोएडा सिटी सेंटर, नोएडा सेक्टर-16, सेक्टर-18 आदि मेट्रो स्टेशनो पर भी टेस्टिंग के लिए स्वास्थ्य विभाग की टीमें मौजूद रहेंगी। 

अस्पतालों में पर्याप्त तैयारी रखने का निर्देश जारी

जिलाधिकारी सुहास एल वाई ने स्पष्ट किया कि दिल्ली और अन्य स्थानों से लोगों की आवाजाही की वजह से संक्रमण बढ़ा है। इसलिए, ऐसे लोगों की औचक जांच की जाएगी और यहां के सभी संस्थानों को लक्षण वाले लोगों पर नजर रखने, पहचान करने और जरूरी इलाज मुहैया कराने के लिए परामर्श जारी किया गया है।’’ उन्होंने कहा कि हाल के दिनों में त्योहार होने की वजह से दिल्ली और नोएडा में लोगों की आवाजाही बढ़ी है और इसलिए आने वाले कुछ दिन बहुत अहम होंगे। इसके मद्देनजर स्वास्थ्य विभाग को भी अस्पतालों में पर्याप्त तैयारी रखने का निर्देश दिया गया है। जिलाधिकारी ने बताया कि औचक जांच रैपिड एंटीजन किट से की जाएगी।

 

नोएडा में बढ़े कोरोना के केस

नोएडा में मंगलवार को कोरोना के 141 नए मामले सामने आए हैं। वहीं, 115 मरीज ठीक भी हुए है। इसी के चलते जिले में कोरोना के कुल मामलों की संख्या अब 20,566 हो चुकी है। 

कुछ बाजारों को बंद करने का केजरीवाल ने भेजा प्रस्ताव 

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने डिजिटल प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए कुछ बाजारों को बंद करने का प्रस्ताव रखते हुए कहा कि 'दीवाली के दौरान कुछ बाजारों में नियमों का पालन नहीं हुआ। इसे लेकर केंद्र को प्रस्ताव भेजा गया है कि अगर जरूरत पड़े और सभी कोशिशों के बावजूद किसी बाजार में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं हो रहा हो और वहां हॉट-स्पॉट बनने की आशंका हो तो उस बाजार को कुछ दिन के लिए बंद करने की इजाजत दिल्ली सरकार को दी जाए। 

 

Sources:Agency News