ALL लेख
डोईवाला - हाइटेंशन लाइन की चपेट में आने से मादा हाथी की मौत
November 20, 2020 • Anil Kumar

 

लच्छीवाला वन रेंज के अंतर्गत जंगल में एक मादा हाथी की हाईटेंशन लाइन (एचटी) के चपेट में आने से मौत हो गई। करंट लगने से हाथी की सूंड और पैर बुरी तरह झुलस गए थे। पोस्टमार्टम करने के बाद हाथी का शव जंगल में दफना कर दिया गया है।

 

डोईवाला / देहरादून / लच्छीवाला वन रेंज के अंतर्गत जंगल में एक मादा हाथी की हाईटेंशन लाइन (एचटी) के चपेट में आने से मौत हो गई। करंट लगने से हाथी की सूंड और पैर बुरी तरह झुलस गए थे। पोस्टमार्टम करने के बाद हाथी का शव जंगल में दफना कर दिया गया है।

बुधवार रात कंपार्टमेंट संख्या 13 गुलरघाटी बीट के अंतर्गत झुंड से अलग हुई एक मादा हाथी ने अपने खाने के लिए रोहिणी पेड़ का ताना तोड़ रही थी। लेकिन पूरा पेड़ पास गुजर रही एचटी लाइन में गिर पड़ा जिससे एचटी लाइन की तार टूट गई और मादा हाथी करंट के चपेट में आ कर गंभीर रूप से घायल हो गई। कुछ ही देर में उसने दम तोड़ दिया। लच्छीवाला रेंज अधिकारी घनानंद उनियाल ने बताया कि हाथी की चिंघाड़ सुनकर गुर्जरों ने इसकी जानकारी वन विभाग को दी। सूचना मिलते ही वन विभाग की टीम देर रात मौके पर पहुंची तो मौके पर एक मादा हाथी मृत मिली। मादा हाथी की उम्र करीब 35 वर्ष थी। वन कर्मियों ने इसकी सूचना उच्च अधिकारियों को दी। गुरुवार सुबह वन संरक्षक शिवालिक पीके पात्रों, डीएफओ राजीव धीमान भी मौके पर पहुंचे। विभागीय अधिकारियों की उपस्थिति में पशु चिकित्सा अधिकारी डॉ. राकेश नौटियाल व डॉ. अमित ध्यानी ने हाथी का पोस्टमार्टम किया।

 

Sources: जेएनएन