ALL लेख
Good News: रोडवेज कर्मियों के वेतन-मानदेय की कमी होगी दूर, 15 करोड़ जल्द होंगे स्वीकृत
August 27, 2020 • Anil Kumar

सरकार ने रोडवेज कर्मियो का वेतन-मानदेय के लिए 15 करोड़ रुपये की सहायता राशि जल्द देने का आश्वासन दिया। साथ ही परिवहन निगम के ढांचे पर पुनर्विचार किया जाएगा। डग्गामारी को रोकने   के लिए प्रदेश स्तर पर अभियान चलाया जाएगा।

मंगलवार को सचिवालय में अपर मुख्य सचिव राधा रतूड़ी की अध्यक्षता में रोडवेज कर्मचारी यूनियन के साथ बैठक में यह सहमति बनी। यूनियन के महामंत्री कार्यवाहक अध्यक्ष योगेश शर्मा, महामंत्री  अशोक चौधरी ने बिंदूवार यूनियन की मांगों को रखा। परिवहन अधिकारियों ने आश्वासन दिया कि सभी विषयों पर गंभीरता से कार्यवाही की जा रही है। रोडवेज कर्मचारियों के वेतन-मानदेय के भुगतान के लिए पंद्रह करोड़ रुपये की राशि जारी की जा रही है।

रोडवेज की जमीनों के कामर्शियल उपयोग के लिए योजना तैयार की जाएगी। रोडवेज में टू टायर ढांचा बनाने पर भी विचार किया जाएगा। कम बस वाली कार्यशालाओं का अन्य कार्यशालाओं में विलय किया जाएगा। चौधरी ने अनुबंधित बसों की संख्या बढाने का सुझाव भी दिया। कहा कि रोडवेज का बस बेडे मे कम से कम दो हजार बसों की जरूरत है। अनुबंधित बसों से इसे बढ़ाया जा सकता है।

रोडवेज में यूनियनों की मान्यता का मुद्दा भी बैठक में उठा। महामंत्री चौधरी ने कहा कि केवल 30 प्रतिशत से अधिक सदस्यों वाली यूनियन को मान्यता दी जाए। रिटायर कर्मचारी को न तो पदाधिकारी ही माना जाए और नहीं उससे वार्ता की जाए। इस विषय पर भी सहमति बनी। कहा कि अधिक सदस्य संख्या वाली यूनियन को ही मान्यता दी जाएगी।

ये रहे मौजूद:  परिवहन सचिव शैलेश बगोली, एमडी-रोडवेज रणवीर सिंह चौहान, अपर सचिव वित्त अमिता जोशी, जीएम रोडवेज दीपक जैन, डीजीएम कार्मिक संजय गुप्ता और यूनियन से हरेन्द्र चौधरी, केपी सिंह, कमल पपनै आदि।


रोडवेज की आय बढ़ाने को दिए चार अहम सुझाव
यूनियन ने रोडवेज की आय बढ़ाने के लिए चार अहम सुझाव दिए। यूनियन के सुझावों की अपर मुख्य सचिव ने भी तारीफ की। उन्होंने कहा कि जल्द ही इन सुझावों पर मंथन करने के लिए बैठक की जाएगी।

Source:Agency news

ये हैं चार सुझाव
1. रोडवेज को चार धाम यात्रा में आने वाले तीर्थयात्रियों के रजिस्ट्रेशन और बुकिंग के लिए अधिकृत किया जाए।
2. बस स्टेशन एवं बसों पर विज्ञापन विशेषकर सरकार द्वारा जारी विज्ञापनों का  प्रचार
3. पुलिस के सभी कर्मियों को एक निश्चित धनराशि के बदले परिवहन निगम की बसों में यात्रा की सुविधा
4. रोडवेज की कोरियर सेवा।