ALL लेख
हाथरस रेप मामलाः लखनऊ बेंच में हाथरस मामले की सुनवाईए कोर्ट को आप बीती बता रहा है पीड़ित परिवार
October 12, 2020 • Anil Kumar

पीड़ित परिवार के अपनी बात रखने के बाद हाथरस के डीएम प्रवीण कुमार लक्षकार व एसपी विनीत जायवाल कोर्ट में अपनी बात रखेंगे। इसके बाद डीजीपी तथा एडीजी लॉ एंड आर्डर के साथ निलंबित एसपी विक्रांतवीर कोर्ट को इस केस के बारे में बताएंगे।

 

लखनऊ /  इलाहाबाद हाईकोर्ट की लखनऊ खंडपीठ में सोमवार को दिन में दो बजे से हाथरस के बूलगढ़ी गांव में मृत दलित युवती के साथ कथित दुष्कर्म, मारपीट तथा पीड़िता का रातों-रात अंतिम संस्कार कराने के मुद्दे पर सुनवाई होगी। यह प्रकरण कोर्ट ने स्वत: संज्ञान लिया है।

कोर्ट में सुनवाई के दौरान पीड़ित परिवार सबसे पहले अपनी बात रख रहा है। उनकी तरफ से सीमा कुशवाह वकील हैं। पीड़ित परिवार के अपनी बात रखने के बाद हाथरस के डीएम प्रवीण कुमार लक्षकार व एसपी विनीत जायवाल कोर्ट में अपनी बात रखेंगे। इसके बाद डीजीपी तथा एडीजी लॉ एंड आर्डर के साथ निलंबित एसपी विक्रांतवीर कोर्ट को इस केस के बारे में बताएंगे। 

मामला कोर्ट 'गरिमापूर्ण ढंग से अंतिम संस्कार के अधिकार' टाइटिल के तहत जस्टिस पंकज मित्तल व जस्टिस राजन रॉय की बेंच के समक्ष सूचीबद्ध किया गया है। इस केस की सुनवाई के दौरान पीड़ित परिवार भी शामिल होगा, जो कड़ी सुरक्षा में सुबह ही हाथरस से चला है। हाई कोर्ट ने पांच बड़े अफसरों के साथ पीड़ित परिवार को भी बुलाया है। डीजीपी डीजीपी हितेश चंद्र अवस्थी के साथ अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी, एडीजी लॉ एंड ऑर्डर प्रशांत कुमार के साथ हाथरस के डीएम प्रवीण कुमार लक्षकार व एसपी विनीत जायसवाल को भी तलब किया गया है। कोर्ट ने डीएम प्रवीण कुमार को विशेष रूप से तलब किया है। सुप्रीम कोर्ट में भी इस मामले की आज सुनवाई होनी है।

Source: Agency News