ALL लेख
इमरती देवी के बिगड़े बोल; पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ को शराबी, कबाड़ी, लुच्चे, लफंगे तक कह डाला
October 24, 2020 • Anil Kumar

भोपाल /  मध्यप्रदेश में 28 सीटों पर होने वाले उपचुनावों के लिए जोर-शोर से प्रचार-प्रसार जारी है। चुनावी सभाओं में नेता अपने पक्ष में मतदाताओं से वोट की अपील कर रहे हैं, लेकिन इस दौरान वे अपनी मर्यादाएं भी भूल रहे हैं और विपक्षी नेताओं के खिलाफ अशोभनीय टिप्पणियां कर रहे हैं। अभी कमलनाथ द्वारा इमरती देवी को लेकर दिये गये बयान का मामला सुलझा भी नहीं था कि अब इमरती देवी ने कमलनाथ को लेकर अमर्यादित शब्दों का इस्तेमाल कर दिया। सोशल मीडिया पर एक वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है, जिसमें इमरती देवी द्वारा कमलनाथ के लिए शराबी, कबाड़ी लुच्चे, लफंगे जैसे शब्द इस्तेमाल किये जा रहे हैं।

बता दें कि बीते रविवार को डबरा की चुनावी सभा में पूर्व मुख्यमंत्री एवं प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमनलाथ ने प्रदेश की महिला बाल विकास मंत्री एवं डबरा से भाजपा उम्मीदवार इमरती देवी को ‘आइटम’ कह दिया था। कमलनाथ के इस बयान को आपत्तिजनक बताते हुए इमरती देवी लगातार हमलावर रूख अपनाए हुए है और उनके खिलाफ विवादित बयानों की बौछार कर रही हैं। इमरती देवी ने शुक्रवार को अपने क्षेत्र में एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए कमलनाथ पर बड़ा हमला बोलते हुए कहा कमलनाथ शराबी कबाड़ी की तरह बन गए हैं। जैसे शराबी के सामने से कोई महिला निकलती है तो शराबी कबाड़ी महिला पर अभद्र टिप्पणी करता है कि देखो क्या आइटम जा रहा है, ऐसे ही लुच्चे लफंगे अब कमलनाथ भी बन गए हैं। इमरती देवी ने कहा कि – ‘मेरे ससुर के सामने, सास, नंद, देवरानी-जेठानी, बेटों के सामने कमलनाथ ने ऐसी भाषा बोली है। कमलनाथ को शर्म नहीं आई। भगवती के दिन चल रहे थे, जिसमें ऐसी भाषा बोली, देख लेना अब भविष्य में कभी प्रदेश में कांग्रेस की सरकार नहीं आएगी। इमरती देवी का यह वीडियो अब सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है।
किसानों की समस्या को लेकर कहा-भाड़ में जाए पार्टी
मंत्री इमरती देवी ने कमलनाथ के खिलाफ ही नहीं, किसानों की समस्याओं को लेकर उन्होंने अपनी पार्टी को भी भाड़ में जाने को कह दिया। इसके लिए बाद में उन्हें सफाई देनी पड़ी। दरअसल, इमरती देवी शुक्रवार को चुनाव प्रचार के लिए अपने विधानसभा क्षेत्र के ग्राम मसूदपुर पहुंची थी। वहां केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर के साथ उनका एक कार्यक्रम था। वहां से लौटते समय देर शाम इमरती देवी को कुछ किसानों ने घेर लिया, जो धान का वाजिब मूल्य न मिलने के कारण पिछले कई दिनों से प्रदर्शन कर रहे हैं। इमरती देवी को अपने बीच देखकर किसानों ने उनसे बात शुरू की, जिसके बाद मंत्रीजी ने कहा कि मैं पूरी तरह डबरा के किसानों के साथ हूं और मैं किसानों के लिए लड़ती रहूंगी। यहां तक तो ठीक था, लेकिन इसी बीच किसी ने पार्टी की बात की तो इमरती देवी ने कहा “भाड़ में जाए पार्टी।”
हालांकि, कुछ देर बाद उन्हें अपनी गलती का अहसास हुआ और इमरती देवी अपने बयान पर सफाई देनी पड़ी। उनका कहना है कि वहां कांग्रेस के कुछ लोग भी किसानों के साथ थे, जो कांग्रेस पार्टी की बात कर रहे थे। उन्होंने पार्टी की बात कही तो मैंने कांग्रेस को लेकर कहा था कि पार्टी भाड़ में जाए। इमरती देवी ने कहा कि मैं बीजेपी की तरफ से चुनाव लड़ रही हूं। मैं भारतीय जनता पार्टी की पूजा करती हूं, मैं क्यों उसे कुछ कहूंगी।

Source: dainik Desh ki Dharati