ALL लेख
जम्मू-कश्मीर: LoC पर मंडरा रहा था चीन में बना पाक आर्मी का क्वाडकॉप्टर, भारतीय सेना ने मार गिराया
October 24, 2020 • Anil Kumar

पाकिस्तान जम्मू-कश्मीर में लगातार अशांति फैलाने की कोशिश कर रहा है। पाकिस्तान आतंक फैलाने और सीमापार से घाटी में हथियारों को पहुंचाने के लिए अब क्वाडकॉप्टर और ड्रोन की मदद ले रहा है। मगर जम्मू-कश्मीर में एलओसी के पास पाकिस्तानी सेना के एक क्वाडकॉप्टर को ढेर कर दिया है। जम्मू-कश्मीर के केरन सेक्टर में एलओसी के पास भारतीय सेना के जवानों ने पाकिस्तानी सेना के चीनी क्वाडकॉप्टर को मार गिराया। 

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, यह घटना आज सुबह (शनिवार) आठ बजे की है, जब एलओसी पर पाकिस्तानी सेना का क्वाडकॉप्टर मंडरा रहा था तभी भारतीय सेना के जवानों ने इसे मार गिराया। बताया जा रहा है कि इस पाकिस्तानी क्वाडकॉप्टर को चीन की कंपनी डीजेआई ने बनाया है और इसका मैपिक 2 प्रो था।

ANI
 
@ANI
Indian Army troops shot down a Pakistan Army quadcopter around 8 am today along Line of Control in Keran sector of Jammu and Kashmir. The Pakistani quadcopter made by Chinese company DJI Mavic 2 Pro model was shot down while it was flying over own position there.

दरअसल, पाकिस्तान से अब देश में अशांति फैलाने के लिए सिर्फ आतंकियों की घुसपैठ ही नहीं की जा रही है बल्कि ड्रोन के जरिए हथियारों की खेप भेजी जा रही है। बीते कुछ समय से सुरक्षाबलों के लिए आतंकियों के खिलाफ अभियान में यह सबसे बड़ी चुनौती बनकर सामने आया है। पाकिस्तान जम्मू कश्मीर में ड्रोन से हथियारों को पहुंचाकर अशांति फैलाने की कोशिश कर रहा है। बताया जा रहा है कि इस क्वाडकॉप्टर का इस्तेमाल भी इसी काम के लिए होता था।

बता दें कि ऐसा पहली बार नहीं है जब अंतरराष्ट्रीय सीमा पर पाकिस्तानी ड्रोन को मार गिराया गया हो या दिखाई दिया हो। इससे पहले भी यह घटना सामने आ चुकी है। इसी साल जनवीर औ पिछले साल साल नवंबर महीने में पंजाब के हुसैनवाला सेक्टर में पाकिस्तान की सीमा के इलाके में एक ड्रोन उड़ते देखा गया जिसके बाद से सेना हरकत में आ गई थी। इस घटना से पहले ही सेना ने कहा था कि पाकिस्तान आधारित खलिस्तान आतंकी संगठन द्वारा 8 ड्रोन की मदद से 80 किलो हथियार सीमा पार भेजा गया है। बीएसएफ के 136 बटालियन ने हुसैनवाला ज्वाइंट चेक पोस्ट के पास 5 बार ड्रोन उड़ते देखे गया था, जिसमें से 4 बार पाक सीमा के भीतर और 1 बार भारतीय सीमा के भीतर देखा गया। बाद में इस ड्रोन को पाक सीमा की ओर जाते देखा गया लेकिन बाद में उसकी लाइट और आवाज बंद हो गई। 

Source:hindustan samachar