ALL लेख
लम्बे वक़्त से ग्रामीण विस्थापन की कर रहे हैं मांग, सुनने को नही कोई तैयार..गांव में पड़ रही दरार
August 21, 2020 • Anil Kumar

टिहरी गडवाल / टिहरी बांध की झील से प्रभावित नन्दगांव के ग्रामीणों की विस्थापन की मांग लम्बे समय से चली आ रही है. लेकिन नन्दगांव के ग्रामीणों का विस्थापन आजतक नही हो सका है.

जिसके चलते प्रभावित नन्दगांव के ग्रामीणों ने विस्थापन की मांग को लेकर पुनर्वास निदेशक से मुखातिब होते हुये ज्ञापन सौंपा. दरअसल टिहरी बांध की झील से प्रभावित नन्दगांव के ग्रामीणों की विस्थापन की मांग साल 2010 से चली आ रही है,लेकिन ग्रामीणों का विस्थापन की मांग आजतक पूरी नही हो पायी है.

पूर्व में नन्दगांव के ग्रामीणों ने गांव के विस्थापन की मांग को लेकर कई बार धरना-प्रदर्शन सहित आमरण अनशन भी किया उसके बावजूद भी ग्रामीणों को विस्थापन के नाम पर सिर्फ अश्वासन ही मिला है.

नन्दगांव में साल 2010 से झील के बढ़ते-घटते जलस्तर से गांव में दरारें पड़ गई थी, साथ ही इसके जद में कई मकानें भी आ गये थे. तब से लेकर आजतक दरारें धीरे-धीरे बढ़ती ही जा रही है. जिसके चलते ग्रामीणों ने टिहरी पुनर्वास निदेशक से विस्थापन की मांग को लेकर ज्ञापन सौंपा है.

 

बयान – सोहन सिंह राणा……………..प्रभावित।

Source :GKM news