ALL लेख
पिछले 24 घंटे में रिकॉर्ड एक लाख से ज्यादा कोरोना मरीज हुए ठीक, सक्रिय मामलों की संख्या 10 लाख से नीचे
September 22, 2020 • Anil Kumar

मंत्रालय के अनुसार देश में कोविड-19 महामारी को मात देकर ठीक हुए लोगों की संख्या अब 44,97,867 हो गई है और इनमें से 79 प्रतिशत लोग नौ राज्यों तथा एक केंद्रशासित प्रदेश-महाराष्ट्र, कर्नाटक, आंध्र प्रदेश, उत्तर प्रदेश, तमिलनाडु, ओडिशा, दिल्ली, केरल, पश्चिम बंगाल और पंजाब से हैं।

नयी दिल्ली। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने मंगलवार को कहा कि भारत में एक दिन में रिकॉर्ड 1,01,468 लोगों ने कोरोना वायरस को मात दी है और महामारी से उबरे लोगों की संख्या अब लगभग 45 लाख हो गई है। इसके साथ ही स्वस्थ होने वालों की दर बढ़ कर 80.86 प्रतिशत हो गई है। मंत्रालय के अनुसार देश में कोविड-19 महामारी को मात देकर ठीक हुए लोगों की संख्या अब 44,97,867 हो गई है और इनमें से 79 प्रतिशत लोग नौ राज्यों तथा एक केंद्रशासित प्रदेश-महाराष्ट्र, कर्नाटक, आंध्र प्रदेश, उत्तर प्रदेश, तमिलनाडु, ओडिशा, दिल्ली, केरल, पश्चिम बंगाल और पंजाब से हैं। महाराष्ट्र महामारी से लोगों के ठीक होने के मामले में लगातार आगे बना हुआ है और इस राज्य में एक दिन में 32 हजार से अधिक लोग (31.5 प्रतिशत) ठीक हुए हैं।

#IndiaFightsCorona
 
@COVIDNewsByMIB
22 सित॰ 2020
@COVIDNewsByMIB को जवाब दे रहे हैं
#IndiaFightsCorona: As on 22nd September 2020, India's Recovery Rate stands at 80.86%: Secretary, @MoHFW_INDIA #StaySafe #IndiaWillWin #COVID19 @ICMRDELHI
 
 
 
#IndiaFightsCorona
 
@COVIDNewsByMIB
#IndiaFightsCorona: The trend of very high number of single day recoveries has sustained for the past four consecutive days. This kind of successive increase in recoveries over new cases has not been seen in the country since May 2020: Secretary, @MoHFW_INDIA @ICMRDELHI
वहीं, आंध्र प्रदेश में एक दिन में 10 हजार से अधिक लोग ठीक हुए हैं। मंत्रालय ने कहा, ‘‘पिछले चार दिन से लगातार बड़ी संख्या में लोग ठीक हो रहे हैं। अधिकतम लोगों के ठीक होने की भारत की महत्वपूर्ण उपलब्धि ने इसे इस मामले में विश्व का शीर्ष देश बना दिया है।’’ इसने कहा कि बड़ी संख्या में लोगों का महामारी को मात देना इस बात का साक्ष्य है कि केंद्र के नेतृत्व में अग्र-सक्रिय कदमों और ‘जांच, संपर्कों का पता लगाने तथा उपचार’ की क्रमिक रणनीति सफल हो रही है। मंत्रालय ने कहा कि प्रभावी चिकित्सकीय प्रबंधन तथा केंद्र सरकार द्वारा जारी उपचार प्रोटोकॉल को नए चिकित्सकीय और वैज्ञानिक साक्ष्यों के अनुरूप समय-समय पर अद्यतन किया जाता रहा है। इसने कहा कि केंद्र सरकार ने ‘रेमडेसिविर’, ‘प्लाज्मा’ और ‘टोसिलिजुमैब’ जैसी ‘अनुसंधानात्मक पद्धतियों’ के तर्कसंगत इस्तेमाल की भी अनुमति दी है। उच्च प्रवाह ऑक्सीजन, ‘नॉन इन्वेसिव वेंटीलेशन’ और स्टेरॉइड तथा रक्त को पतला करने वाली दवाओं के इस्तेमाल जैसे कदमों का परिणाम कोविड-19 के मरीजों के ठीक होने की दर के अधिक होने के रूप में निकला है। मंत्रालय ने कहा कि हल्के मामलों में गृह पृथक-वास और इसकी निगरानी, एंबुलेंस सेवाओं में सुधार जैसे कदमों ने भी प्रभावी कोविड प्रबंधन में मदद की है। स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार भारत में पिछले 24 घंटे में कोविड-19 के 75,083 नए मामले सामने आए और इसके साथ ही देश में संक्रमण के अब तक सामने आए मामलों की कुल संख्या 55,62,663 हो गई। इस अवधि में 1,053 मरीजों की मौत के साथ ही महामारी से मरने वालों की संख्या 88,935 हो गई है।
Source:Agency News