ALL लेख
पुलिस भर्ती की मांग को लेकर बेरोजगारों ने किया प्रदर्शन,मुख्‍यमंत्री आवास कूच करने की दी चेतावनी
September 21, 2020 • Anil Kumar

 

देहरादून / उत्तराखंड पुलिस भर्ती की मांग को लेकर रविवार को परेड ग्राउंड में बेरोजगार युवाओं ने विरोध दर्ज किया । आरटीआइ कार्यकर्ता राम कंडवाल के नेतृत्व में युवाओं ने उत्तराखंड पुलिस भर्ती को लेकर जल्द से जल्द विज्ञप्ति जारी करने की मांग की। आरोप लगाया कि पिछले छह साल से उत्तराखंड पुलिस की भर्ती नहीं हुई है। कई युवा अब भर्ती की उम्र भी पूरी कर चुके हैं।

कहा क‍ि खुद मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने दिसंबर 2019 में पुलिस भर्ती को मंजूरी दी थी,लेकिन ऐसे में सवाल उठता है अगर राज्य का प्रमुख पुलिस भर्ती को मंजूरी देता है तो भर्ती आने में कितना समय क्यों लगा। उत्तराखंड में पुलिस विभाग में अब तक प्रमोशन नहीं हुए हैं तो यह सवाल भी उठता है कि इतने सालों बाद उत्तराखंड पुलिस में प्रमोशन क्यों नहीं हुए। युवाओं ने कहा कि इसी महीने उत्तराखंड पुलिस की विज्ञप्ति जारी हो। जिसमें दो हजार कांस्टेबल, ढ़ाई सौ दरोगा व साढ़े तीन सौ महिला कांस्टेबल की विज्ञप्ति में युवाओं को मौका मिल सके। साथ ही मांग की है कि उत्तराखंड पुलिस में आयु सीमा बढ़ाई जाए।

 

कहा क‍ि कॉस्टेबल की आयु सीमा 18 से 26 साल की जाए। क्योंकि जो युवा साल 2014 में 18 साल का था आज वही युवा 2020 में 24 साल का हो चुका है ऐसे में 2014 से उस युवा ने एक भी बार पुलिस भर्ती में आवेदन नहीं दिया। चेतावनी दी कि अगर इस महीने पुलिस विज्ञप्ति जारी नहीं होती है तो 10 अक्टूबर से पहले मुख्यमंत्री आवास कूच किया जाएगा। जिसमें हजारों बेरोजगार साथ होंगे।

Source:Agency News