ALL लेख
रामपुर तिराहा कांड 26 वीं बरसी,राज्य निर्माण के लिए प्राण न्योछावर करने वाले शहीदों को अर्पित की श्रद्धांजलि
October 2, 2020 • Anil Kumar

मुजफ्फरनगर/  मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने रामपुर तिराहा कांड की 26 वीं बरसी पर राज्य निर्माण के लिए प्राण न्योछावर करने वाले शहीदों को अपनी श्रद्धांजलि अर्पित की।मुजफ्फरनगर स्थित रामपुर तिराहा पर बने उत्तराखंड शहीद स्मारक में शहीदों को श्रद्धांजलि करने के पश्चात उन्होंने राज्य आंदोलनकारियों को याद करते हुए कहा कि इन शहीदों की बदौलत ही उत्तराखंड राज्य का निर्माण हुआ।नौजवानों,महिलाओं एवं बुजुर्गों ने सैकड़ों की संख्या में अपना बलिदान देकर इस राज्य के निर्माण में जो अपना महत्वपूर्ण योगदान दिया है उसे प्रदेशवासी कभी भुला नहीं पाएंगे।

 

उन्होंने कहा कि आज इन राज्य आंदोलनकारियों के सपनों को साकार करने के लिए हमारी सरकार कृत संकल्प है।एकअक्टूबर सन् 1994 की रात को दिल्ली जाते समय सैकड़ों आंदोलनकारियों को तत्कालीन मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव की सरकार में प्रशासन ने इन्हें रामपुर तिराहे पर रोक लिया था तथा उनके साथ बर्बरता पूर्वक रवैया अपनाया।उन निहत्थे लोगों पर गोलियां चलाई गई,जिसमें जिसमें दर्जनों आंदोलनकारी शहीद हुए और सैकड़ों की संख्या में घायल हुए।मुख्यमंत्री ने कहा कि पुलिस कर्मियों द्वारा यह गया दुष्कर्म को लेकर केस न्यायालय में विचाराधीन है।

 

उन्होंने कहा कि केंद्र में राजक सरकार के प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेई ने उत्तराखंड राज्य का निर्माण कर पर्वतीय मूल के लोगों की भावनाओं का सम्मान किया तथा वर्षों से चली आ रही उनकी मांग को पूरा किया।आज उत्तराखंड प्रदेश भाजपा के शासनकाल में विकास की राह में लगातार आगे बढ़ रहा है।श्रद्धांजलि अर्पित करने वालों में भाजपा प्रदेश अध्यक्ष बंशीधर भगत,विधायक प्रमोद ऊंटवाल,रुड़की मेयर गौरव गोयल,विधायक प्रदीप बत्रा व देशराज कर्नवाल,भाजपा नेता विनय रोहिला,अमीलाल बाल्मीकि,भाजपा जिला अध्यक्ष विजय शुक्ला,सत्यप्रकाश,अनिल त्यागी,सचिन सिंघल,मनोज नायक,कविता रावत सहित अनेक प्रशासनिक एवं पुलिस अधिकारी व ज्वाइंट मजिस्ट्रेट नमामि बंसल तथा एसपी देहात रुड़की स्वपन किशोर सिंह मौजूद रहे।इस दौरान मुख्यमंत्री ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी तथा पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री के चित्र पर पुष्प अर्पित कर उन्हें याद किया।

Source :Agency news