ALL लेख
संजीत अपहरण हत्याकांड: मास्टरमाइंड कुलदीप ने घटना को लेकर किया नया खुलासा
July 30, 2020 • Anil Kumar

कानपुर  / उत्तर प्रदेश के कानपुर में थाना बर्रा इलाके में लैब टेक्नीशियन संजीत यादव के अपहरण करने के बाद हत्या वाले मामले ने एक नया मोड ले लिया। जिसमे मास्टरमाइंड कुलदीप ने घटना को लेकर नया खुलासा किया है। उसने बताया कि उन लोगों ने संजीत की हत्या नहीं की थी, बल्कि चाकू से उसने खुद हाथ की नस काट ली थी। अधिक खून बहने से उसकी मौत हो गई।

किसी को शक न हो, इसलिए भाभी (प्रीति शर्मा) और किसी एक अन्य साथी को संजीत के साथ छोड़कर सभी इधर-उधर हो जाते थे। एक दिन रामजी ने उसे सेब खाने के लिए दिया। संजीत ने सेब काटने के लिए चाकू मांगा। इसी चाकू से उसने खुद पर हमला कर लिया। अमीर बनने का लालच देकर ज्ञानेंद्र ने नीलू को गैंग में शामिल किया था। रिमांड पर लिए गए सचेंडी के नीलू ने बताया कि सभी आरोपी जल्द अमीर बनना चाहते थे। इसी चक्कर में दोस्त के ही अपहरण की साजिश रच डाली।

आपको बता दें 22 जून को संदिग्ध परिस्थितियों में लैब टेक्नीशियन संजीत यादव का अपहरण हो गया था। लगातार परिजन पुलिस पर लापरवाही का आरोप लगा रहे थे। इसी बीच अपहरणकर्ताओं ने संजीत यादव के पिता चमन से फिरौती की मांग भी की थी। इसकी जानकारी पुलिस को दी गई। पुलिस बैग में फिरौती की रकम लेकर अपहरणकर्ताओं की बताई जगह पर पहुंचे।

जब तक पुलिस अपहरणकर्ताओं को गिरफ्तार कर पाती, वे पुल के नीचे से बैग लेकर फरार हो गए थे। 31 दिन के बाद पुलिस ने घटना का खुलासा किया कि संजीत के दोस्तों ने अपहरण की योजना बनाई थी और उसे फिरौती की रकम मांगने से पहले ही मारकर पांडू नदी में फेंक दिया था।

Source :Agency news