ALL लेख
शांतिकुंज दुष्कर्म प्रकरण: डॉ. प्रणव पंड्या मामले में एफआर लगाने की तैयारी 
October 12, 2020 • Anil Kumar

शांतिकुंज प्रमुख डॉ. प्रणव पंड्या पर दर्ज दुष्कर्म के मामले में पुलिस फाइनल रिपोर्ट (एफआर) लगाने की तैयारी में है। हालांकि, इसकी आधिकारिक पुष्टि नहीं हो पाई है, लेकिन विश्वस्त सूत्रों का कहना है कि जांच में पुलिस को कुछ ऐसे सुबूत मिले हैं, जिसके आधार पर आरोप साबित नहीं हो सके।

बता दें कि बीती पांच मई को छत्तीसगढ़ की युवती ने दिल्ली में एफआईआर दर्ज कराई थी। आरोप था कि वर्ष 2010 में जब वह नाबालिग थी तो शांतिकुंज आई थी और डॉ. प्रणव पंड्या के सेवा कार्यों में रहती थी। इसी दौरान डॉ. पंड्या ने उसके साथ दुष्कर्म किया। उनकी पत्नी शैलबाला ने भी मुंह बंद रखने की धमकी दी।
दिल्ली पुलिस ने केस दर्ज कर हरिद्वार पुलिस को ट्रांसफर कर दिया था। हाईप्रोफाइल मामले की जांच के लिए महिला हेल्पलाइन की प्रभारी मीना आर्य के नेतृत्व में पुलिस टीम गठित की गई। टीम ने छत्तीसगढ़, दिल्ली, पंजाब सहित कई स्थानों पर जाकर 50 से 60 लोगों के बयान भी दर्ज किए।
विश्वस्त सूत्रों के अनुसार, इस दौरान दुष्कर्म के कोई सबूत नहीं मिले। वहीं, पुलिस को कुछ ऐसे सुबूत भी मिले, जिसके आधार पर डॉ. पंड्या और उनकी पत्नी शैलबाला को क्लीन चिट मिल रही है। सूत्रों का कहना है कि इसी आधार पर पुलिस मामले में एफआर लगाने की तैयारी में है।

जल्द ही रिपोर्ट हाईकोर्ट में पेश की जाएगी। हालांकि, इसकी आधिकारिक पुष्टि नहीं हो पाई है। वहीं, एसएसपी सेंथिल अबूदई कृष्णराज एस का कहना है कि अभी जांच चल रही है। इसकी रिपोर्ट हाईकोर्ट में प्रस्तुत करने के बाद ही कुछ कहना सही होगा।

Source:Amarujala