ALL लेख
शराब का ठेका हटाने की मांग को लेकर महिलाओं ने किया आबकारी अधिकारी का घेराव
July 31, 2020 • Anil Kumar

रिपोर्ट- मनोज नौडियाल

कोटद्वार / सनेह क्षेत्र में शराब का ठेका एवं मोबाईल वैन के खिलाफ महिलाओं के एक बार फिर से आंदोलन छेड़ दिया है। शुक्रवार को मौका मुआयना करने गए आबकारी अधिकारी का आंदोलन कर रही महिलाओं ने घेराव करते हुए प्रदेश सरकार के खिलाफ खूब नारेबाजी करते हुए मुख्यमंत्री एवं क्षेत्रीय विधायक पर महिलाओं का अपमान करने का आरोप लगाया। आबकारी अधिकारी का घेराव करते हुए सामाजिक कार्यकर्ता अंजू पुंडीर, रेनू कोटियाल, बीना कोटियाल, अभिलाषा देवी सहित दर्जनों महिलाओं ने कहा कि, चुनाव के समय प्रदेश सरकार ने नशामुक्त समाज का नारा दिया था। लेकिन वर्तमान में प्रदेश सरकार ने घर-घर शराब का ठेका एवं मोबाईल वैन चलाकर युवाओं को नशे के दल-दल में धकेलने का काम किया जा रहा है।जोकि जनता के साथ छलावा है।

आंदोलन कर रही महिलाओं ने प्रदेश के मुख्यमंत्री एवं क्षेत्रीय विधायक की कार्यप्रणाली को भी कटघरे में खड़ा करते हुए कहा कि, महिलाओं के द्वारा शराब के ठेके को हटाने को लेकर विगत कई दिनों से आंदोलन किया जा रहा है। शराब का ठेका एवं मोबाईल वैन को हटाने को लेकर महिलाओं के प्रतिनिधिमंडल ने कई बार क्षेत्रीय विधायक डॉ हरक सिंह रावत ने प्रदेश के मुख्यमंत्री से भी मुलाकात करते हुए शराब का ठेका हटाने की मांग की गयी थी, लेकिन शराब का ठेका हटाने के बजाय अब मोबाईल वैन से घर-घर शराब बेची जा रही है। महिलाओं ने रोष व्यक्त करते हुए कहा कि, अब सनेह क्षेत्र की महिलाऐं आगामी 2022 में होने वाले चुनाव का बहिष्कार करते हुए भाजपा का खुलकर विरोध करेंगी।

Source :Bright post news