ALL लेख
उन्नाव सांसद साक्षी महाराज को गिरिडीह प्रशासन ने किया क्वारंटाइन, एसडीएम ने पीछा कर पकड़ा
August 29, 2020 • Anil Kumar

धनबाद / उत्तर प्रदेश के उन्नाव के सांसद साक्षी महाराज को गिरिडीह जिला प्रशासन ने जबरन पकड़कर क्वारंटाइन कर दिया है। एसडीएम प्रेरण दीक्षित के नेतृत्व में पुलिस ने पीरटांड़ थाना के समक्ष शनिवार को चेकिंग लगाकर पकड़ा। इसके बाद उन्हें शांति भवन आश्रम गिरिडीह में क्वारंटाइन कर दिया गया। साक्षी महाराज ने रोकने पर आपत्ति जताई। उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव से उन्होंने बातचीत की। गिरिडीह के डीसी राहुल कुमार सिन्हा से भी उन्होंने मोबाइल पर बात की लेकिन बात नहीं बनी। अंत में पुलिस-प्रशासन ने उन्हें शांति भवन गिरिडीह में ले जाकर 14 दिनों के लिए क्वारंटाइन कर दिया। 

शुक्रवार को गिरिडीह पहुंचे थे साक्षी महाराज 

साक्षी महाराज शुक्रवार को यूपी से गिरिडीह पहुंचे थे। वे यहां शांति भवन आश्रम में ठहरे थे। आश्रम में उनका बराबर आना-जाना होता है। उनके आने की सूचना प्रशासन को नहीं थी। शनिवार को दोपहर करीब साढ़े बारह बजे वे गिरिडीह से पीरटांड़ होते हुए धनबाद के लिए निकले थे। जिला प्रशासन को उनके बारे में तब तक सूचना मिल चुकी थी। जैसे ही उनकी गाड़ी गिरिडीह से पीरटांड़ थाना के समक्ष पहुंची, वहां बेरियर लगाकर उनकी गाड़ी रोक दी गई। एसडीएम प्रेरणा दीक्षित भी तब तक उनके पीछे-पीछे गिरिडीह से वहां पहुंच गईं। एसडीओ ने सरकार के दिशा-निर्देश के अनुसार उनसे 14 दिन क्वारंटाइन रहने को कहा। एसडीओ ने कहा कि दूसरे राज्य से आने वाले किसी भी व्यक्ति को झारखंड में 14 दिन क्वारंटाइन रखने का निर्देश है। साक्षी महाराज ने इस पर आपत्ति जताई।

झारखंड में लगातार सामने आ रहा दोहरा चेहरा 

झारखंड में कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए प्रशासन का दोहरा चेहरा लगातार सामने आ रहा है। प्रशासन भाजपा नेताओं को माैका मिलते ही क्वारंटाइन कर देता है। जबकि सत्ताधारी दल से जुड़े नेताओं को राज्य से बाहर आकर घूमने की पूरी आजाती है। झारखंड प्रदेश कांग्रेस के सह प्रभारी उमंग सिंघार पिछले दिनों गिरिडीह पहुंचे थे। उन्हें प्रशासन ने क्वारंटाइन नहीं किया। 

Source:Agency news